Neeraj chopra biography in hindi l Neeraj Chopra Biography, Javelin Throw in Hindi l neeraj chopra l neeraj chopra javelin thrower2021

Neeraj chopra biography in hindi l Neeraj Chopra Biography, Javelin Throw in Hindi

Neeraj chopra biography in hindi नीरज चोपड़ा की कामयाबी कई मायनों में खास है। अगर उनके सफर को देखें तो उनके इरादे शुरू से ही साफ थे कि उन्हें क्या करना है। 2021 में उन्होंने वो कामयाबी हासिल की जो हमेशा याद रखा जाएगा।

मुख्य बातें

  • 24दिसंबर 1997 को हरियाणा के खंडरा में नीरज चोपड़ा का हुआ था जन्म
  • नीरज चोपड़ा के पिता पेशे से किसान और मां गृहिणी हैं
  • 11 साल की उम्र में नीरज चोपड़ा ने भाला फेंकना शुरू किया था।

हरियाणा के पानीपत के रहने वाले हैं नीरज चोपड़ा
24 दिसंबर 1997 को हरियाणा के पानीपत में नीरज चोपड़ा का जन्म गांव खंडरा के रहने वाले सरोज देवी और सतीश कुमार के यहां हुआ था। नीरज चोपड़ा कुल पांच भाई बहन हैं। नीरज के पिता सतीश कुमार पेशे से किसान हैं।  नीरज चोपड़ा के शैक्षणिक योग्यता की बात करें तो स्नातक हैं लेकिन उनकी रुझान खेलों के प्रति रही। खासतौर से उन्होंने जैवलिथ थ्रो यानी भाला फेंक को अपना लक्ष्य बनाया और अनवरत उसके लिए मेहनत करते रहे। खास तौर से जब उन्होंने जर्मनी के पेशेवर जैवलिन एथलीट उवे होन के निर्देशन में ट्रेनिंग ली।

नीरज चोपड़ा की कामयाबी

  • 2016 में IAAAF चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता।
  • उन्हें सेना में अधिकारी के तौर पर नियुक्त किया गया।
  • नीरज ने 2016 के साउथ एशियन गेम्स में गोल्ड जीता
  • 2016 में एशियन जूनियर चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता।
  • इसके बाद 2017 एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप में गोल्ड
  • 2018 के कॉमनवेल्थ गेम्स में गोल्ड मेडल जीता।
  • दोहा डायमंड लीग में गोल्ड मेडल जीता।
  • नीरज को 2018 में अर्जुन अवॉर्ड से नवाजा गया।

11 साल की उम्र में भाला फेंकना शुरू किया
लोग बताते हैं कि नीरज चोपड़ा ने महज 11 साल की उम्र में भाला फेंकना शुरू कर दिया था। उनके करियर में अहम पड़ाव साल 2016 का साथ जब एक रिकॉर्ड ने उनकी करियर को दिशा दी। खासतौर से साल 2014 में करीब सात हजार की कीमत में एक भाला खरीदा था। अपने सफर को जारी रखते हुए उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खेलने के लिए 10 हजार रुपये में भाला खरीदा।

नीरज चोपड़ा करियर (Neeraj Chopra Career)Neeraj chopra bio in hindi

अपने परिवार के दुलारे होने के कारण बचपन में नीरज चोपड़ा का वजन काफी बढ़ गया था. ऐसे में वजन कम करने के लिए नीरज चोपड़ा कसरत करने लगे. इसके अलावा वजन कम करने के लिए उनका खेलों की तरफ भी रुझान बढ़ने लगा. नीरज चोपड़ा को शुरुआत में कबड्डी का बहुत शौक था. उनके गांव में कोई स्टेडियम तो था नहीं, ऐसे में नीरज चोपड़ा प्रैक्टिस करने के लिए गांव से 16-17 किलोमीटर दूर पानीपत के शिवाजी नगर स्टेडियम में जाने लगे.

वजन कम करने के बाद नीरज चोपड़ा के सामने समस्या थी जेवलिन (भाला) खरीदने की. दरअसल उस समय एक अच्छी क्वालिटी की जेवलिन एक लाख रुपए से भी ज्यादा की आती थी, जोकि उनके परिवार के लिए खरीदना मुश्किल था. ऐसे में नीरज चोपड़ा ने 6-7 हजार रुपए की जेवलिन खरीदी और उससे प्रैक्टिस करने लगे. इसके बाद नीरज चोपड़ा ने दिन में 7-7 घंटे तक जेवलिन थ्रो की प्रैक्टिस की. इस तरह नीरज चोपड़ा एक बेहतरीन जेवलिन थ्रो खिलाड़ी बने.

नीरज चोपड़ा उपलब्धि (Neeraj Chopra Achievement)

नीरज चोपड़ा ने सबसे पहले साल 2012 में लखनऊ में हुई अंडर-16 नेशनल जूनियर चैंपियनशिप में 68.46 मीटर भाला फेंककर स्वर्ण पदक जीता.

साल 2013 में नीरज चोपड़ा नेशनल यूथ चैंपियनशिप में दूसरे स्थान पर रहे और IAAF वर्ल्ड यूथ चैंपियनशिप में अपना स्थान पक्का किया.

साल 2015 में नीरज चोपड़ा में इंटर-यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में 81.04 मीटर दूरी पर भाला फेंककर एज ग्रुप का रिकॉर्ड बनाया.

इसके बाद साल 2016 में नीरज चोपड़ा में जूनियर विश्व चैंपियनशिप में 86.48 मीटर भाला फेंककर विश्वरिकॉर्ड बनाया और गोल्ड मेडल अपने नाम किया.

साल 2016 में हुए दक्षिण एशियाई खेलों में नीरज चोपड़ा ने 82.23 मीटर भाला फेंककर स्वर्ण पदक अपने नाम किया

नीरज चोपड़ा के बारे में अन्य जानकारी (information about Neeraj Chopra)

  1. नीरज चोपड़ा भारतीय सेना में नायब सूबेदार के पद पर तैनात है.
  2. जूनियर विश्व चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीतने के बाद नीरज चोपड़ा को भारतीय सेना में नायब सूबेदार नियुक्त किया गया था.
  3. अपने शानदार खेल की बदलौत ही नीरज चोपड़ा ने टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics) के लिए भी क्वालीफाई किया.
  4. नीरज चोपड़ा को अर्जुन पुरस्कार (2018) से सम्मानित किया जा चुका है.
  5. अगर नीरज चोपड़ा की नेट वर्थ (Neeraj Chopra net worth) की बात करे तो एक मीडिया वेबसाइट के अनुसार उनकी सम्पत्ति 1 मिलियन डॉलर से 5 मिलियन डॉलर (लगभग) होने का अनुमान है.

Neeraj Chopra Biography, Javelin Throw in Hindi

नीरज चोपड़ा का जीवन परिचय (Neeraj Chopra Biography in Hindi)

जीवन परिचय
वास्तविक नाम नीरज चोपड़ा
व्यवसाय भारतीय एथलीट (जेवलिन थ्रो)
प्रसिद्ध हैं राष्ट्रमंडल खेलों में जवेलिन थ्रो फेंकने में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी
शारीरिक संरचना
लम्बाई (लगभग) से० मी०- 178
मी०- 1.78
फीट इन्च- 5′ 10″
वजन/भार (लगभग) 65 कि० ग्रा०
आँखों का रंग काला
बालों का रंग काला
ट्रैक और फील्ड
इवेंट जेवलिन थ्रो
कोच/सरंक्षक Garry Calvert, Werner Daniels
रिकॉर्ड/उपलब्धियां • पोलैंड के बाइडगोस्ज़्ज़ में 2016 आईएएएफ विश्व अंडर – 20 चैम्पियनशिप में विश्व जूनियर रिकॉर्ड दर्ज किया।
• वर्ष 2016 में, दक्षिण एशियाई खेलों में 82.23 मीटर की थ्रो के साथ भारतीय राष्ट्रीय रिकॉर्ड दर्ज किया।
• वर्ष 2018 में, वह एशियाई खेलों और राष्ट्रमंडल खेलों में जवेलिन में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने।
व्यक्तिगत जीवन
जन्मतिथि 24 दिसंबर 1997
आयु (वर्ष 2017 के अनुसार) 20 वर्ष
जन्मस्थान खंडरा, पानीपत, हरियाणा, भारत
राशि मकर
राष्ट्रीयता भारतीय
गृहनगर पानीपत, हरियाणा, भारत
स्कूल ज्ञात नहीं
कॉलेज/विश्वविद्यालय/महाविद्यालय ज्ञात नहीं
शैक्षणिक योग्यता ज्ञात नहीं
धर्म हिन्दू
खाद्य आदत मांसाहारी
शौक/अभिरुचि यात्रा करना और संगीत सुनना
प्रेम संबन्ध एवं अन्य मामलें
वैवाहिक स्थिति अविवाहित
परिवार
माता-पिता नाम ज्ञात नहीं
भाई-बहन ज्ञात नहीं
पसंदीदा चीजें
पसंदीदा एथलीट Jan Železný (a retired Czech track and field athlete)
पसंदीदा राजनेता नरेंद्र मोदी
धन संबंधित विवरण
बाइक संग्रह पल्सर 220

 

नीरज चोपड़ा

नीरज चोपड़ा से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियाँ

  •  नीरज का जन्म हरियाणा के पानीपत के पास खंडरा में एक किसान परिवार में हुआ था।
  • वह अपने गांव के वरिष्ठ थ्रोअर (जेवलिन थ्रो) को देखकर प्रेरित हुए थे।

    नीरज चोपड़ा जेवलिन थ्रो के दौरान

    नीरज चोपड़ा जेवलिन थ्रो के दौरान

  • वर्ष 2011 से 2015 तक, उन्होंने पंचकुला में ताऊ देवी लाल स्टेडियम में स्पोर्ट्स अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एसएआई) केंद्र में जेवलिन थ्रो के कौशल को ओर परिपक्क्व किया।
  • वर्ष 2016 में, भारत ने पहली बार जश्न तब मनाया, जब उन्होंने जूनियर विश्व रिकॉर्ड स्थापित किया और पोलैंड के बाईडगोस्ज़्ज़ में आईएएएफ विश्व अंडर 20 एथलेटिक्स चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था।

    नीरज चोपड़ा जूनियर विश्व रिकॉर्ड

    नीरज चोपड़ा जूनियर विश्व रिकॉर्ड

  • रिकॉर्ड दर्ज़ करने के बावजूद भी वह वर्ष 2016 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक के लिए अर्हता प्राप्त करने में नाकाम रहे।
  • नीरज ने प्रसिद्ध कोच वर्नर डेनियल के तहत जर्मनी के ऑफेनबर्ग में 3 महीने के ऑफ-सीजन के कार्यकाल का भी सामना किया।

 

FAQ

Q : नीरज चोपड़ा कौन है ?

Ans : भारतीय एथलीट भाला फेंक खिलाड़ी

Q : नीरज चोपड़ा की उम्र कितनी है ?

Ans : 23 साल

Q : नीरज चोपड़ा की हाइट कितनी है ?

Ans : 5 फुट 10 इंच

Q : नीरज चोपड़ा की जाति क्या है ?

Ans : हिन्दू रोर मराठा

Q : नीरज चोपड़ा की सैलरी कितनी है ?

Ans : 1 से 5 मिलियन डॉलर के आसपास

Q : नीरज चोपड़ा का ओलिंपिक 2021 का बेस्ट थ्रो कितना है ?

Ans : 87.58 मीटर

Q : जेवलिन थ्रो के लिए ओलंपिक रिकॉर्ड कितने का है ?

Ans : 90.57 मीटर

 

नीरज चोपड़ा के कोच (Coach)

नीरज चोपड़ा के कोच का नाम उवे होन हैं जो कि जर्मनी देश के पेशेवर जैवलिन एथलीट रह चुके हैं। इनसे ट्रेनिंग लेने के बाद ही नीरज चोपड़ा इतना अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं.

नीरज चोपड़ा करियर भाला फेंक एथलीट (Javelin Throw Athlete)

भाला फेक खिलाड़ी नीरज चोपड़ा ने सिर्फ 11 साल की उम्र में ही भाला फेंकना प्रारंभ कर दिया था। नीरज चोपड़ा ने अपनी ट्रेनिंग को और भी ज्यादा मजबूत बनाने के लिए साल 2016 में एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया जो इनके लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ। नीरज चोपड़ा ने साल 2014 में अपने लिए एक भाला खरीदा था, जो ₹7000 का था।

इसके बाद नीरज चोपड़ा ने इंटरनेशनल लेवल पर खेलने के लिए ₹1,00000 का भाला खरीदा था। नीरज चोपड़ा ने साल 2017 में एशियाई चैंपियनशिप में 50.23 मीटर की दूरी तक भाला फेंक कर मैच को जीता था। इसी साल उन्होंने आईएएएफ डायमंड लीग इवेंट में भी हिस्सा लिया था, जिसमें वह सातवें स्थान पर रहे थे। इसके बाद नीरज चोपड़ा ने अपने कोच के साथ काफी कठिन ट्रेनिंग चालू की और उसके बाद इन्होंने नए-नए कीर्तिमान स्थापित किए।

नीरज चोपड़ा Tokyo ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympic Match 2020)

फाइनल मैच जोकि 7 अगस्त शाम 4:30 बजे आयोजित किया गया था. इस मैच में निईराज ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है. और भारत के इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज कर लिया है. इन्होने फाइनल मुकाबले में 6 राउंड में से पहले 2 राउंड में ही 87.58 की सबसे ज्यादा डिस्टेंस का रिकॉर्ड सेट कर दिया था, जिसे अगले 4 राउंड में कोई भी खिलाड़ी नहीं तोड़ सका. और अंत में नीरज की पोजीशन पहले नंबर पर ही बनी रही और वे स्वर्ण पदक अपने नाम कर गए.

भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने बुधवार को टोक्यो ओलंपिक में परफेक्ट जैवलिन थ्रो कर फाइनल में अपनी जगह बनाई और ट्रैक एंड फील्ड में ओलंपिक का पहला मेडल दिलाने के लिए अपनी दावेदारी को प्रस्तुत किया। नीरज चोपड़ा 86.65 मीटर की कोशिश के साथ क्वालिफिकेशन में टॉप पर रहते हुए ओलंपिक फाइनल में अपनी पोजीशन बनाने वाले पहले इंडियन जैवलिन प्लेयर बने। जिसके कारण नीरज चोपड़ा से देश को Gold Medal की आस जगी है।

नीरज चोपड़ा वर्ल्ड रैंकिंग (World Ranking)

नीरज चोपड़ा की वर्तमान में विश्व रैंकिंग जैवलिन थ्रो की कैटेगरी में चौथे स्थान पर है। इसके अलावा वे कई मैडल एवं पुरस्कार भी जीत चुके हैं.

नीरज चोपड़ा वेतन, नेटवर्थ (Salary and Net Worth)

वर्तमान के समय में नीरज चोपड़ा जेएसडब्ल्यू स्पोर्ट्स टीम में शामिल है। इन्हे स्पोर्ट्स ड्रिंक की फेमस कंपनी गोटोरेड के द्वारा ब्रांड एंबेसडर के तौर पर सिलेक्ट किया गया है। नीरज चोपड़ा की कुल संपत्ति की बात की जाए तो इनकी कुल संपत्ति 5 मिलियन डॉलर के आसपास है।

नीरज चोपड़ा की सैलरी के बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आई है, हालांकि इनकी विभिन्न पुरस्कारों से काफी अच्छी इनकम हो जाती है।

नीरज चोपड़ा भारत के जेवलिन थ्रो यानि कि भाला फेंक खिलाड़ी है. जिन्होंने हालही में Tokyo Olympics 2021 में भारत का प्रतिनिधित्व करते हुए बेहतरीन जैवलिन थ्रो करते हुए फाइनल में अपनी जगह बनाते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है. और अपना एवं भारत का नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज कर लिया है.

उन्होंने फाइनल में अपने पहले ही प्रयास में 87.58 मीटर की दूरी फेंक कर एक रिकॉर्ड सेट कर लिया था जिसे कोई भी पार नहीं कर सका. इनके भाला फेंक में बेहतरीन प्रदर्शन करने के कारण उन्हें आर्मी में भी शामिल किया गया है. जिसके कारण वे अपने घर के लिए आजीविका का साधन बन गये हैं, आइये इनके जीवन के बारे में आपको विस्तार से बताते हैं.

Leave a Comment

%d bloggers like this: