Bacho Ko Padhne Ka Tarika In Hindi|बच्चों को पढ़ाने का तरीका [2020]

आज मैं ऐसी जानकारी लेके आया हूँ जो की माता-पिता और एक शिक्षक के लिए बहुत उपयोगी है,”Bacho Ko Padhne Ka Tarika In Hindi” जी हाँ दोस्तों यह सवाल आपके दिमाग में भी आता होगा, ऐसा कौनसा तरीका है जिससे आप बच्चों को बेहतर ढंग से सिखा सकते है।

Bacho Ko Padhne Ka Tarika In Hindi

दोस्तों हर माँ-बाप और शिक्षक के लिए बच्चे की शिक्षा बहुत ही जरुरी होती है, और यह उनके लिए एक चुनौती से कम नहीं है, ध्यान देने वाली बात यही है कि सीखने में और रटने में अंतर होता है, इसलिए आज इस जानकारी से आपको यह बात साफ़ होने वाली है। पूरी जानकारी जरूर पढ़े।

बच्चों को कितना पढ़ाये?

हमारे दिमाग में एक गलत धारणा है कि ज्यादा समय मतलब ज्यादा पढ़ाई , पर ऐसा नहीं है बच्चों में बड़ो के मुकाबले कम एकाग्रता यानी concentration power होती है, इसलिए एक समय लगातार पढ़ने के बाद बच्चों का ध्यान पढ़ाई से हट जाता है, फिर आप चाहे कितने भी प्रयास कर लें,बच्चा कुछ नया नहीं सीखेगा।

इसलिए पढ़ाई के दौरान कुछ समय का ब्रेक भी लें, जिससे बच्चे का दिमाग फिर से पढ़ाई में लग सके|

बच्चों के पहले शिक्षक माता-पिता होते हैं।

आज कल माता-पिता अपने बच्चों की पढ़ाई की पूरी ज़िम्मेदारी स्कूल या टूशन पर छोड़ देते है, यह बात गलत है, क्यूंकि पहली बात तो बच्चों की कितनी क्षमता है उसकी ज्यादा जानकारी माँ-बाप को होती है, इसलिए आप उन्हें बेहतर समझा सकते है, इसलिए बच्चों को घर पर थोड़ा समय देना चाहिए।

बच्चों को पढ़ाने के तरीके निम्नलिखत हैं —

1.बच्चो को उदहारण (Example) देके समझाये

बच्चों को उदाहरण से ज्यादा बेहतर समझ आता है, कभी-कभी सवाल इतने कठिन होते है की बच्चा उनको नहीं समझ पता, इसलिए हमेशा बच्चे को उदहारण दें|

2. बच्चों को गृहकार्य (Homework) देने की जगह अपने सामने कार्य कराये

गृहकार्य सिर्फ बच्चों को पढ़ाई से जोड़ कर रखता है, ताकी बच्चे याद किया हुआ भूल न जाएँ पर कभी -कभी हम गृहकार्य को इतना बढ़ा देते है की बच्चा वो कार्य खुद न करके किसी और से करवाते हैं, इसलिए बजाये उन्हें ज्यादा गृहकार्य देने के,उन्हें अपने सामने कार्य कराना सही रहता है, इससे बच्चे पर गृहकार्य का बोझ नहीं रहता और वो सीखता भी है।

3. बच्चे लिखकर ज्यादा सीखते है

बच्चों को पढ़ाने के तरीके

हमे बच्चो को लिखने के लिए प्रेरित करना चाहिए, लिखने के दो फायदे है, इससे बच्चे की अशुद्धि भी पता चल जाती हैं और बच्चे को याद रखने में भी आसानी होती है, क्यूंकि परीक्षा में भी बच्चा लिखता ही है, इसलिए उसका अभ्यास बना रहता है।

4. अच्छा करने पर बच्चे को इनाम भी दें

दोस्तों एक बच्चे को प्रेरित करने का आसान तरीका है कि आप उसे हर अच्छे काम के लिए एक छोटा सा इनाम दीजिये, जैसे अगर उसका लेख अच्छा है, तो आप उसे गुड दे सकते है,जिससे बच्चा और अच्छा करने के लिए प्रेरित होगा।

5. समय-समय पर आकलन जरुरी है

देखिये अगर आप बच्चे से कभी भी पूछेंगे की क्या उसे समझ आया तो वो कभी भी न नहीं कहेगा,भले ही उसे न समझ आया हो, तो ये जानने के लिए, आकलन लेना चाहिए, चाहे test के रूप में क्यों न हो|

6. बच्चे की तुलना किसी और से न करें

how to teach kids in hindi
how to teach

मैं कहूंगा कि सबसे जरुरी तरीका है ये, क्यूँकि अगर आप एक बच्चे की तुलना दूसरे से करते है तो बच्चे का मनोबल गिर सकता है, हर बच्चा अलग होता है,उनके सीखने का तरीका भी अलग होता है इसलिए आप सबको एक तरीके से नहीं पढ़ा सकते है।

जरूर पढ़े — How to concentrate in studies for long hours in hindi

तो दोस्तों उम्मीद करता हूँ कि आपको “Bacho Ko Padhne Ka Tarika In Hindi” में जो तरीके बताये है वो जरूर पसंद आये होंगे, अगर आपको यह जानकारी पसंद आयी है तो जरूर कमेंट करें और अपने दोस्तों के साथ शेयर करें, पढ़ने के लिए धन्यवाद।

One Comment

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *